Home तस्वीर का सच पुष्टाहार में कंकड़,पत्थर और घास-फूस

पुष्टाहार में कंकड़,पत्थर और घास-फूस

लोकतंत्र सेनानी की ऊधमसिंह नगर की डीएम से की जांच की मांग

आपूर्ति वाले ठेकेदार पर मनमानी करने का आरोप

महिलाओं और बच्चों के साथ धरने की चेतावनी

ऊधमसिंह नगर। जिले में सरकार की योजना के तहत गर्भवती महिलाओं,  नवजात शिशुओं और तथा प्रसूताओं के लिए पुष्टाहार का वितरण किया जा रहा है। आरोप है कि इस पुष्टाहार में कंकड़ और पत्थर के साथ ही सूखी घास भी शामिल है। लोकतंत्र सेनानी ने डीएम से इसकी जांच अपने स्तर से करने की मांग की है। ऐसा न होने पर धरने की चेतावनी भी दी गई है।

ज़िला बार एसोसियशन ऊधमसिंहनगर के पूर्व अध्यक्ष और लोकतंत्र सेनानी सुभाष छाबड़ा एडवोकेट ने कहा कि सरकार ने गर्भवती महिलाओं, नवजात शिशुओं और प्रसूताओं को पुष्टाहार देने का फैसला किया है। इस पर सरकार करोड़ों रुपये खर्च कर रही है। छाबड़ा ने इस पुष्टाहार को बेहद निम्न स्तर का बताया और आपूर्ति करने वाले ठेकेदार तथा संबंधित  अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी करवाई की मांग की है।

 एडवोकेट छाबड़ा ने कहा कि जो कुछ भी सरकार दुवारा पुष्टाहार के नाम पर उपलब्ध कराया जा रहा है वो पशुओं के खाने लायक भी नहीं है।  इस पुष्टाहार में  कंकड़, पत्थर,  सूखी घास फूस पर्याप्त मात्रा में है। इसको खाने से बच्चों और महिलाओं की जान भी जा सकती है। एडवोकेट छाबड़ा ने जिलाधिकारी रंजना राजगुरु से मांग की है दी जा रही सामग्री की वे खुद जांच करें तभी कुछ हो सकेगा। वरना अधिकारी और कर्मचारी मामले में लीपापोती करके खत्म कर देंगे। उन्होंने चेतावनी दी अगर प्रशासन ने दोषियों के विरुद्ध करवाई न की तो बच्चों और महिलाओं के साथ धरना देने पर मजबूर होना पड़ेगा।

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

तो क्या ‘चौबे’ से ‘दुबे’ बनने आए हैं ‘भट्ट जी’

हरियाणा से भेजे गए सुरेश को लेकर सियासी गलियारा गर्म अब तक तो सत्ता के शीर्ष पर...

विभागीय आयोजनों से महाराज क्यों ‘दूर’

पहले पर्यटन और अब सिंचाई विभाग के कायर्क्रम में नहीं दिखे मंत्री दोनों कार्यक्रमों में सीएम त्रिवेंद्र...

कोरोनाः उत्तराखंड के लिए खराब रहा 37वां सप्ताह

सर्वाधिक 68 मौत, 3161 नए केस और एक्टिव केस रहे 4876 साप्ताहिक रिवकरी रेट में भी रही...

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर कोरोना का ‘ग्रहण’

हरिद्वार जिला प्रशासन ने गंगा स्नान पर लगाई रोक उल्लंघन करने वालों पर दर्ज होगी एफआईआर

Related News

तो क्या ‘चौबे’ से ‘दुबे’ बनने आए हैं ‘भट्ट जी’

हरियाणा से भेजे गए सुरेश को लेकर सियासी गलियारा गर्म अब तक तो सत्ता के शीर्ष पर...

विभागीय आयोजनों से महाराज क्यों ‘दूर’

पहले पर्यटन और अब सिंचाई विभाग के कायर्क्रम में नहीं दिखे मंत्री दोनों कार्यक्रमों में सीएम त्रिवेंद्र...

कोरोनाः उत्तराखंड के लिए खराब रहा 37वां सप्ताह

सर्वाधिक 68 मौत, 3161 नए केस और एक्टिव केस रहे 4876 साप्ताहिक रिवकरी रेट में भी रही...

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर कोरोना का ‘ग्रहण’

हरिद्वार जिला प्रशासन ने गंगा स्नान पर लगाई रोक उल्लंघन करने वालों पर दर्ज होगी एफआईआर

आपदा प्रबंधन विभाग का अंग्रेजी में हाथ ‘तंग’

जिम्मेदारी से बचने को हिंदी में जारी नहीं की जा रही गाइड लाइन आरटीआई के जवाब में...
error: Content is protected !!