Home एक्सक्लुसिव फ्लाइट को नहीं मिल रही डीजीसीए की मंजूरी

फ्लाइट को नहीं मिल रही डीजीसीए की मंजूरी

दुबई से 187 उत्तराखंडियों की मदद को विधायक ने लिखा खत

देहरादून। दुबई से आने वाली 187 प्रवासी उत्तराखंडियों की चार्टेड फ्लाइट को डीजीसीए की मंजूरी नहीं मिल पा रही है। विधायक मनोज रावत ने मुख्यमंत्री से इस मामले में मदद का आग्रह किया है।

विधायक रावत ने मुख्यमंत्री को लिखा है कि दुबई से 187 प्रवासी उत्तराखंडियों की एक फ्लाइट को आज दिन में 12 बजे प्रस्थान करना था। लेकिन भारत सरकार के डीजीसीए से इसे अभी तक मंजूरी नहीं मिल सकी है। प्रवासी उत्तराखंडी संगठन अपने स्तर से प्रयास कर रहे हैं। दुबई में भारतीय दूतावास भी कोई मदद नहीं कर रहा है। वहां उन लोगों के पास खाने का भी पैसा नहीं बचा है। विधायक ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे अपने स्तर से बात करके मंजूरी दिलवाने में मदद करे। इसके अलाव दो अन्य फ्लाइट और भी दुबई से भारत आनी हैं।

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

‘हरदा का बिगड़ गया मानसिक संतुलन’

अब कभी खास सिपहसालार रहे रणजीत ने साधा निशाना बोले, उनके बोल से कांग्रेस को हो रहा...

क्या त्रिवेंद्र ने करा दी उत्तराखंड की बेइज्जती !

एबीपी के काउंटर सर्वे में जी टीवी पूछ रहा ये बेहूदा सवाल सीएम का मीडिया मैनेजमेंट लग...

हरदा ने अजब अंदाज में की त्रिवेंद्र की “पैरवी”

बोले,मोदी के शासन में सीएम को काम न करने दिया जाता जो द्वयमूर्ति का आज्ञाकारी वो नॉन...

‘खाकी’ में इंसानियत निखारते डीजीपी अशोक

पुलिस महकमे के नए मुखिया ने किए अहम फैसले पर्वतीय जनपदों के कर रहे ताबड़तोड़ दौरे

Related News

‘हरदा का बिगड़ गया मानसिक संतुलन’

अब कभी खास सिपहसालार रहे रणजीत ने साधा निशाना बोले, उनके बोल से कांग्रेस को हो रहा...

क्या त्रिवेंद्र ने करा दी उत्तराखंड की बेइज्जती !

एबीपी के काउंटर सर्वे में जी टीवी पूछ रहा ये बेहूदा सवाल सीएम का मीडिया मैनेजमेंट लग...

हरदा ने अजब अंदाज में की त्रिवेंद्र की “पैरवी”

बोले,मोदी के शासन में सीएम को काम न करने दिया जाता जो द्वयमूर्ति का आज्ञाकारी वो नॉन...

‘खाकी’ में इंसानियत निखारते डीजीपी अशोक

पुलिस महकमे के नए मुखिया ने किए अहम फैसले पर्वतीय जनपदों के कर रहे ताबड़तोड़ दौरे

कर विभागः अफसरों व कर्मियों के तमाम पद रिक्त

आउटसोर्स से लिपिक, चालक और चपरासी के स्वीकृत पदों से ज्यादा कर्मी पदोन्नति के भी तमाम मामले...
error: Content is protected !!